रिटायर्ड वाईस एडमिरल ने मोदी जी के INS विराट को लेकर लगाए आरोपों को झूठ बताया है, कहा राजीव गांधी शासकीय काम से गए थे

INS विराट

गांधी परिवार पर बंदूकें तानते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने भारतीय नौसेना के हवाईजहाज़ INS विराट का उपयोग परिवार की छुट्टी पर अपनी “निजी टैक्सी” के रूप में किया।

पीएम मोदी ने दिल्ली के रामलीला मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा “उस समय, जब INS विराट समुद्री सीमाओं की सुरक्षा के लिए तैनात थे, उस समय ये राजीव गांधी और उनके परिवार को उनकी छुट्टी के लिए एक द्वीप पर ले जाने के लिए भेजा गया था। यहां तक ​​कि उनके ससुराल वाले आईएनएस विराट में मौजूद थे। क्या यह राष्ट्रीय सुरक्षा का समझौता नहीं था? ”।

यह ज़ाहिर है कि यह खुद पीएम मोदी द्वारा रचा गया एक और झूठ है।

वाइस एडमिरल विनोद पसरीचा (रिटायर्ड) ने खुद इसे गलत बताया है।

“यह पूरी तरह से गलत है। यह पूरी तरह से गलत है। वे जहाज पर आए और वे जहाज पर ही रहे। वे शासकीय काम के लिए आए थे कोई मनोरंजन के लिए नहीं। जो कुछ कहा गया है वह पूरी तरह से गलत है। यह कुछ ऐसा है जो हमेशा किया जाता है और मुझे लगता है कि वे इस बात से राई का पहाड़ बना रहे हैं। ”पसरीचा ने टाइम्स नाउ से बात करते हुए कहा।

उनके कमेंट को यहां सुनें:

Also read: Retd Vice Admiral lambasts PM Modi for INS Viraat allegation, claims Rajiv Gandhi was on official visit

पी. एम. मोदी को सच्चाई दिखाने का अवसर पाते ही कांग्रेस प्रवकता ने मिस्टर पसरीचा का ज़िक्र करते हुए कहा की मोदी जी के लिए तथ्य ज़रूरी नही हैं।

एक प्रेस कांफ्रेंस को सम्भोदित करते हुए खेरा ने कहा की “वाईस एडमिरल विनोद पसरीचा (रिटायर्ड) ने कहा है की ये सब झूठ है। राजीव गांधी शासकीय काम के लिएथे किसी छुट्टी पर नही पर मोदी जी को तथ्यों से कोई फर्क नही पड़ता।”

मोदी जी का इस तरह झूठ बोलना और इतना नीचे गिरना एक प्रधानमंत्री को शोभा नही देता। उन्हें उनकी ज़िम्मेदारी को समझना चाहिए कि जब वे कुछ कह रहे होते हैं तो वे पूरे देश का प्रतिनिधित्व करते हैं।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *